अरुण जेटली से जुड़े 10 रोचक तथ्य | 10 Interesting Facts About Arun Jaitley  - Tenfacts

Breaking

Saturday, May 26, 2018

अरुण जेटली से जुड़े 10 रोचक तथ्य | 10 Interesting Facts About Arun Jaitley 

अरुण जेटली से जुड़े 10 रोचक तथ्य | 10 Interesting Facts About Arun Jaitley 

10 Interesting Facts About Arun Jaitley 

हेलो दोस्तों Tenfacts मे आपका स्वागत है। आज हम आपको अरुण जेटली की जिंदगी से जुड़े 10 रोचक तथ्य के बारे में बताएंगे, जो आप शायद ही जानते होंगे, तो आइए जानते हैं।

भारतीय राजनीति की बड़ी शख्‍स‍ियतों में शुमार केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भाजपा की वर्तमान पीढ़ी के सबसे बड़े नेताओं में से एक हैं। उन्हें हर राजनीतिक विषय पर अपने स्पष्ट विचारों एवं वाकपटुता के लिए जाना जाता है। राजनीति से लेकर व्‍यक्‍त‍िगत जिंदगी तक हर जगह जेटली बेहद गंभीर स्‍वभाव के माने जाते हैं। अरुण जेटली का जन्म 28 दिसंबर 1952 को नई दिल्ली में हुआ था। आज हम जानेंगे अरूण जेटली से जुड़े 10 ऐसे तथ्य जिनके बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है।

1. बचपन से ही पढ़ने में तेज अरुण जेटली पहले सीए बनना चाहते थे। अरुण जेटली ने दिल्ली के श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से इकोनॉमिक्स में पढ़ाई की और फिर दिल्ली विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री प्राप्त की।

2. साल 1977 में अरुण जेटली ने कोर्ट में वकालत की प्रैक्टिस शुरु की और इस समय वो सुप्रीम कोर्ट के जाने माने वकीलों में से एक हैं। उन्होंने कानूनी और समसामयिक मामलों पर कई पुस्तकें भी लिखीं हैं।

3. कॉलेज के दौरान ही वह दिल्ली विश्वविद्यालय में छात्र संघ के अध्यक्ष बन गए थे। आपातकाल के दौरान वह जेल भी जा चुके हैं। छात्र के रूप में अपने कैरियर के दौरान उन्हें अकादमिक और पाठ्यक्रम के अतिरिक्त गतिविधियों दोनों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के विभिन्न सम्मानों से भी सम्मानित किया गया था।

4. 1989 में विश्वनाथ प्रताप सिंह की तत्कालीन सरकार ने अरुण जेटली को अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल नियुक्त किया था और उन्होंने बोफोर्स घोटाले में जांच के लिए कागजी कार्यवाई की थी।

5. जेटली राजनीतिक जोड़-तोड़ में काफी माहिर माने जाते हैं और प्रमोद महाजन की मृत्‍यु और बाजपेयी जी के रिटायरमेंट के बाद ये भाजपा के सबसे बड़े स्ट्रैटजिस्ट का रोल निभा रहे हैं।

6. 2002 में हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी के विजय के योजनाकार अरूण जेटली ही थे।

7. 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जेटली ने कभी चुनाव नहीं लड़ा था। 2014 में पहली बार किसी चुनाव में उम्मीदवार के रूप में शामिल हुए, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

8. अरूण जेटली को क्रिकेट में गहरी रूचि है। वह बीसीसीआई के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। उन्होंने 2014 के आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

9. साल 1998 में अरुण जेटली को संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत सरकार का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला।

10. अरुण जेटली को शेरो शायरी का बेहद शौक है। उनका ये शायराना अंदाज खास कर बजट पेश करते समय देखने को मिलता है। कई बार उन्‍होंने शायरियों के माध्‍यम से ही विपक्ष पर काफी अच्‍छे से तंज कसा है।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलें

No comments:

Post a Comment